FIR दर्ज पटना की सड़कों पर मशाल जुलूस निकालना पप्पू यादव को पड़ा महंगा, बिना अनुमति के अपने आवास मंदिरी से आयकर गोलंबर तक कार्यकर्ताओं के साथ मशाल जुलूस निकालना  अध्यक्ष पप्पू यादव को महंगा पड़ा।

FIR दर्ज मशाल जुलूस निकालना पप्पू यादव को पड़ा महंगा
FIR दर्ज मशाल जुलूस निकालना पप्पू यादव को पड़ा महंगा

पुलिस ने कानूनी शिकंजा कसना शुरू कर दिया गया है। मजिस्ट्रेट के आदेश पर देर रात पप्पू यादव समेत सात नामजद तथा डेढ़ सौ अज्ञात कार्यकर्ताओं के खिलाफ बुद्धा कालोनी थाने में FIR दर्ज की गई। इसकी पुष्टि बुद्धा कालोनी थाना प्रभारी रविशंकर सिंह ने की है।

FIR दर्ज पटना की सड़कों पर मशाल जुलूस निकालना पप्पू यादव को पड़ा महंगा

जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव के नेतृत्व में राज्य के मजदूरों, मध्यम वर्ग और छात्रों को कोरोना काल में राहत दिलाने की मांग को लेकर शनिवार को मशाल जुलूस निकाला।

मशाल जुलूस उत्तरी मंदिरी स्थित जाप कार्यालय से निकलकर आयकर चौराहा तक निकला। मौके पर पप्पू यादव ने राज्य सरकार पर तानाशाही का आरोप लगाया और कहा कि मशाल विरोध का प्रतीक है, इसे गांव-गांव पहुंचाएंगे।

पप्पू यादव ने कहा कि सरकार ने अपने मजदूरों, मध्यम वर्ग के लोगों, छात्रों को उनके हाल पर छोड़ दिया है। कहा कि राज्य सरकार को छात्रों और मजदूरों की कोर्ई चिंता नहीं है। हम कमज़ोर समाज के लोगों की आवाज़ उठाते रहेंगे और संघर्ष जारी रखेंगे चाहे सरकार जितनी भी हम पे FIR दर्ज करें। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here