हाई ब्‍लड शुगर को करी पत्‍ताेंं से करें कंट्रोल ( Use Curry Leaves In Diabetes ) - Nolshi News - Sabse Tez

Hot News

Saturday, 15 February 2020

हाई ब्‍लड शुगर को करी पत्‍ताेंं से करें कंट्रोल ( Use Curry Leaves In Diabetes )

हाई ब्‍लड शुगर को करी पत्‍ता से करें कंट्रोल


करी पत्ते के इस्तेमाल से बहुत सारे स्‍वास्‍थ्‍य लाभ हैं, इसका सेवन आपके भोजन को भी एक अलग हीं स्‍वाद देती है और यह बहुत सारे फायदों से भरपूर भाी होती है। इसे अधिकांश रूप से दक्षिण भारतीयों के व्‍ंयजनों में किया जाता है यहॉं करी पत्‍ता एक अत्‍यधिक युज होता है, इसका इस्‍तेमाल सांभर, दाल, और  सब्ज़ियों एवं पुलाउ आदि में किया जाता है। और खिचड़ी के तड़के तैयार करने में भी इसका इस्‍तेमाल करते हैं।


हाई ब्‍लड शुगर को करी पत्‍ता से करें कंट्रोल

वेदो मे भी ऐसा माना गया है कि करी पत्‍ता में ऐसे कई औषधीय गुण मौजुद होते है, जिस कारण इसका इस्‍तेमाल त्‍वचा समस्‍याओं से लेकर ब्‍लड शुगर को कंट्रोल करने तक में भी किया जाता है। आज के समय में  हाई ब्लड शुगर लोगों के बीच एक समस्‍या बनी हुई है।

इसका साफ मतलब है कि करी पत्‍ता आज के समय में मधुमेह प्रबंधन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है। इस करी पत्ते के और भी कई सारे स्वास्थ्य लाभ होते हैं, जैसे बेहतर पाचन, अच्‍छा हृदय एवं स्वास्थ्य और स्वस्थ त्वचा एवं बाल भी शामिल हैं। अब हम यहां आपको बता दे कि यह करी पत्‍ता ब्‍लड शुगर कंट्रोल करने में मददगार कैसे है। 

डायबिटीज मे करे करी पत्‍तों का इस्‍तेमाल ( Use Curry Leaves In Diabetes )



हेड डायटिशियन और वॉकहार्ड हॉस्पिटल मुंबई सेंट्रल ने माना हैं, कि करी पत्ता में एंटीऑक्सिडेंट और फ्लेवोनॉयड्स इनमें एक बहुत ही अच्‍छा स्रोत है यह रोगी के ब्लड शुगर को कंट्रोल करने और इसके लेवल को समान्‍य करने में मदद कर सकता है। 

और इतना ही सिर्फ नहीं इस चमत्‍कारी  करी पत्ते में फाइबर युक्‍त तत्‍व भी होता है, जो आपके शरीर के पेट के पाचन को धीमा करता है और इसके इस्‍तेमाल से कार्बोहाइड्रेट के अवशोषण को रोकता है, जिस कारण यह होता है कि यह आपके शरीर के खून में शुगर का लेवल काफी कम कर देता है। करी पत्‍ता ना सिर्फ डायबिटीज प्रबंधन है अपितु ये आपके शरीर के कोलेस्ट्रॉल मात्रा को भी कम कर देता है।

कडी पत्‍ते का इस्‍तेमाल बालो और त्‍वचा की समरस्‍याओं में करें


एक किये गये अध्ययन से पता चला है कि करी पत्ते मे अनोखा ब्‍यूटी सीक्रेट छिपा हुआ है। ये हमारे कोशिकाओ को क्षतिग्रस्‍त होने से रोक सकता हैं, जोकि सिधे-सिधे हमारे अग्नाशय कोशिकाओं में  इंसुलिन के उत्पादन के लिए जिम्मेदार होता है। यह मनुष्‍य के शरीर में बन रहे इंसुलिन की गति में काफी सुधार कर देता है। 
इन करी पत्तियॉं में एंटी-इंफ्लेमेटरी एवं एंटीमाइक्रोबियल की मात्रा भी भरपूर होती हैं। यही कारण है इन करी पत्तीयों को स्वाभाविक रूप से इंसुलिन की गतिविधि को बढ़ावा देने के लिए भी जानते है। जिससे  यह हाई ब्‍लड शुगर कंट्रोल करने के लिए बेहद जरूरी होता है। 

करी पत्ते इस्‍तेमाल करने की विधि ( Method of  Using  Curry Leaves For Diabetes) 


करी पत्‍ता को हम लोग औषधीय जड़ी बूटी भी कहते है,  इसे अन्‍य दवाओं के साथ भी इसका इस्‍तेमाल हम कर सकते है। लैकिन फिर भी आप लोगो को पुरी तरह से इस डायबिटीज और ब्‍लड शुगर कंट्रोल करने के लिए इस करी पत्‍ते पर निर्भर रहने की जरूरत नहीं है, क्‍यो की आपको अपने स्‍वास्‍थ खानपान एवं व्‍यायाम भी बेहद जरूरी है।

करी पत्रा का उपयोग सही मात्रों से करें: 



  • रोज सुबह कम से कम 5 से 10 करी पत्‍ते को चबाएं। 
  • करी पत्‍ते का जूस और काड़ा बनाकर भी सेवन कर सकते करें। 
  • अपने भोजन में करी पत्‍ते को जरूर शामिल करें। 





No comments:

Post a Comment