श्री राम मंदिर निर्माण करने की तारीख तय की गई।

श्री राम की जन्मभूमि का जगह निरीक्षण करने के बाद सेवानिवृत आईएएस पदाधिकारी व अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्र ने अपने बयान में कहा कि श्री राम मंदिर उनकी जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र का ट्रस्ट निर्माण में कहा नई दिल्ली में भूमि पूजन का ऐलान किया जाएगा।

श्री राम मंदिर निर्माण करने की तारीख तय की गई



श्री राम जन्मभूमि का निरीक्षण दिन शनिवार दिनांक 29 फरवरी 2020 को किए जाने के बाद ऐसा निर्णय लिया गया है, निर्माण समिति के अध्यक्ष श्री मिश्र अयोध्या पहुंचकर मंदिर के लिए उन्होंने की गई अब तक की तैयारी बारे में बताया की कार्यशाला(शिलाओं) को तराश कर रख दिया गया है।
राम की जन्मभूमि परिसर लगभग 67 एकड़ का है इससे जुड़े सभी रास्तों को देखा गया है, ट्रस्ट के महासचिव भी साथ थे जिनका नाम चंपत राय बताया जा रहा है, जो कि अपनी ओर से संबंधित गतिविधियों की जानकारी दिया गया यह पहला दौरा था उनका जब ट्रस्ट बना था।
4 घंटे तक परिसर परिसर में लगभग निरीक्षण के बाद मिश्र ने विहिप की कार्यशाला पहुंचे 30 सालों से जहां अब भी पत्थर तराशें जा रहे हैं, चंपत राय द्वारा बताया गया तराशा हुआ शीला को दिखाया गया। जो शीला कई सालों से खुले में रखा हुआ था। ऐसा रॉय ने कहा खुले में रहने के कारण उसकी चमक मैं काफी कमी आई है।
होली खत्म हो जाने के बाद फिर से सेनाओं की सफाई का कार्य में लोग जुट जाएंगे। उन्होंने बताया की 30 से 40 टन भारी इन सभी पत्थरों को जूट से बने गद्दों तथा टायरों का सहारा लेकर इसे कार्य स्थल तक पहुंचाया जाएगा इंजीनियर की टीम टेक्निकल परीक्षण करने के बाद 26 मार्च 2020 तक रिपोर्ट की मांग की जाएगी।
प्रधानमंत्री द्वारा शुभ मुहूर्त की घोषणा की जाएगी, सेवानिवृत्त आईएएस श्री नृपेंद्र मिश्र ने शनिवार के दिन भर अयोध्या में अपना समय व्यतीत किया, कंपनी निर्माण लार्सन एंड टर्बो के प्रमुख इंजीनियर दिवाकर भी वहां मौजूद थे। रिपोर्ट आ जाने के बाद ट्रस्ट की बैठक एवं भूमि पूजन तय किया जाएगा और दिनांक भी तय होगा टेक्निकल लोगो द्वारा तय करेंगे कि कब पूजन करना प्रारंभ करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here