राम मंदिर को इतना ऊंचा बनाऐंगें कि पाकिस्‍तान के इस्‍लामाबाद से भी नजर आएगा

अयोघ्‍या के राम मंदिर के कार्यकारी अध्‍यक्ष एवं सांसद रामविलास वेदांती ने आज रामजन्‍मभूमि मंदिर के बारे में एक दिलचस्‍प बातें कही है। राम मंदिर के कार्यकारी अध्‍यक्ष ने आज जो कि पूर्व सांसद भी रह चुके है। उनके द्वारा एक दिलचस्‍प बाते कही गयी है।

राम मंदिर को इतना ऊंचा बनाऐंगें कि पाकिस्‍तान के इस्‍लामाबाद से भी नजर आएगा


  

पूर्व सांसद रह चुके रामविलास वेदांती ने आज कहा कि राम मंदिर को लेकर इन्‍होनें आज एक बेहद दिलचस्प बोला है। अयोध्या में बनने वाले देश के राम मंदिर को ये विश्व के सबसे ऊंचा एवं भव्य मंदिर बनाये जाने कि मांग कर दी है। रामविलास वेदांती ने आज इंदौर में कहा है कि रामजन्मभूमि में करीब एक हजार एक सौ ग्यारह फिट के ऊंचे मंदिर बनाये जाने कि मांग कि जिसे पाकिस्‍तान के इस्लामाबाद से भी देखा जा सकेगा।
इनके द्वारा कहा गया है कि राम मंदिर ट्रस्ट के सदस्य लोगो कि भावना को ध्यान में रखते हुए विश्व के सबसे बड़े भव्य राम मंदिर का निर्माण किया जाऐगा। वेदांती रामविलास महाराज रामजन्‍मभूमि के राम मंदिर विवाद में भी यह मुख्य गवाह रहे थे। इनके द्वारा हीं  वाल्मिकी रामायण को आधार और भगवान राम के जन्म के अस्तित्व के प्रमाण भी कोर्ट में दिए थे।
पुर्व सांसद वेदांती महाराज जी ने राममंदिर ट्रस्ट से खुद को दूर रहने रखे जाने का कारण भी बताया है। उनका यह भी कहना था कि हम राजनीति से काफी समय से जुड़े रहने के कारण हीं हमें रामजनमभूमि में बनने वाले राम मंदिर ट्रस्ट में मुझे कोई स्थान नहीं मिल पाया है। लेकिन इनका यह भी कहना है कि इससे मुझे क्‍या फर्क पड़ता है। हमारे देश माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भारत की सबसे बड़ी और जटिल समस्या का हल जन भावना के अनुरुप निकालने का काम किया है।

कार्यकारी अध्‍यक्ष एवं पुर्व सांसद रह चुके रामविलास वेदांती के द्वारा तारीख का भी ऐलान कर दिया गया है। इनके द्वारा बताया गया है कि राम मंदिर का निर्माण बहुत ही भव्य किया जाऐगा। तथा अब यह साल 2024 के चुनाव के पहले हीं यह राम मंदिर पुरा बन कर तैयार हो जाऐगा यह तो संभव नहीं लगता है। लेकिन इतना जरूर है कि साल 2024 के चुनाव होने तक राम जन्‍मभूमि में राम मंदिर का प्रारुप बनकर पूरी तरह तैयार हो जाना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here