याराना सोनू सूद का के बारे में जानते है,प्रवासियों के हजारों किलोमीटर पैदल निकल जाने के बहुत ही वीडियो वायरल हुई. जिसमें भूखे, प्यासे,पैदल, साइकिल पर सवार, सर पर अपना सामान लिए हुए. वीडियो को देखा तो सबने लेकिन एक याराना सोनू सूद का जिसे यह वीडियो टच कर गया.

याराना सोनू सूद का जिसने जीता सबका दिल
याराना सोनू सूद का जिसने जीता सबका दिल

जो खुद सड़क पर से ऊपर उठा है, याराना सोनू सूद का वो

सोनू सूद है.अभी देखने के लिए मिल रहा है Social media पर याराना सोनू सूद का उन्होंने कहा कि जिन्होंने हमारे घर बनाए हैं उन्हें सड़कों पर अकेला कैसे छोड़ सकते हैं.

जिस दिन प्रवासियों को उन्होंने पैदल अपने गांव की तरफ जाते देखा तब से उन्होंने ठाना कि इन लोगों के लिए हरसंभव प्रयास करने की कोशिश किया करेंगे, कि उनका उदास चेहरा खुशियों में तब्दील कर दें।

जिसे सोनू सूद ने किया भी पिछले कुछ समय से सोनू सूद मुंबई में फंसे प्रवासी को कर्नाटक, बिहार, दिल्ली, उड़ीसा,यूपी यहां तक उत्तराखंड में हजारों प्रवासियों को अपने घर तक भेज चुके हैं.

कोच्चि की वह 177 लड़कियां जो सिलाई के दौरान फंसी हुई थी उन्होंने सोशल मीडिया के तहत सोनू सूद को कांटेक्ट (contact) किया और वहां से सोनू सूद डायरेक्ट एअरलिफ्ट करवाया, चार्टर्ड प्लेन के द्वारा इन लड़कियों को वहां से निकाला गया और भुनेश्वर अपने अपने घर तक पहुंचा दिया गया.

याराना सोनू सूद का उन्होंने जीता सबका दिल

अब जो उन्होंने ऐसा किया कि जिससे आप कह सकेंगे की सोनू सूद” सर दिल तो एक ही है” इसे कितनी बार आप जीतेंगे. जहां एक ओर बसें और चार्टर्ड प्लेन के बाद अब बुक कर लिए हैं पूरी की पूरी ट्रेन ही जी हां यह सच है.

महाराष्ट्र के ठाणे क्षेत्र से रात को यह ट्रेन रवाना हुई. इस ट्रेन से हजारों प्रवासी अपने अपने घर के लिए निकले थे इस ट्रेन को रात में रवाना किया गया. ट्रेन में बैठे मजदूरों प्रवासियों की खुशी का ठिकाना इस बात से लगा सकते हैं.

कि सोनू सूद का जिंदाबाद के नारे लगने लगे और मुंबई पुलिस जिंदाबाद के नारे लगाते हुए रेलगाड़ी में बैठे। सोनू सूद ने इस ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर ट्रेन को रवाना किया, याराना सोनू सूद का प्रवासियों को अपने अपने घर पहुंचाने के लिए ट्रेन निकल पड़ी।

अभिनेता सोनू सूद ने प्रवासियों के लिए किया क्या ऐसा बड़ा काम: याराना सोनू सूद का

याराना सोनू सूद का, सर सूद के लिए ऐसा कोई काम भी नहीं है जो कि वह ना कर सके, बहुत लोगों ने ट्विटर पर भी ट्वीट कर सोनू सूद से संपर्क कर मदद मांगी इस पर सोनू सूद ने कहा ” चलो आपके कुछ काम तो आया”.

प्रवासियों ने भी जवाब दिया ” सर धन्यवाद” फिर सोनू सूद ने ट्रेन में जा रहे यात्रियों से कहा ” आराम से जाओ और सेनिटाइज़्ड करते रहो आप हर 2 मिनट में आप सैनिटाइज्ड करते रहो।

हाथों को” सफर में मास्क पहनें और हाथों को Sanitized करते रहें। इलाहाबाद जाते हुए प्रवासियों से सोनू सूद ने पूछा आपको कैसे पता चला, तो प्रवासियों ने कहा व्हाट्सएप Whats App पर मैसेज द्वारा संपर्क हो पाया मुझे मैसेज आए थे सोनू ने हाथ जोड़कर सब को थैंक यू कहा.

सोनू सूद एक बस पर कर रहे हैं इतना खर्चा: याराना सोनू सूद का

लोक डाउन में दिहाड़ी मजदूरों पर बड़ा ही बुरा असर पड़ा है उनके पास काम नहीं हैं. काम के बिना इन प्रवासियों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है. हालांकि कोई भी नेता अभिनेता प्रवासियों के लिए सामने नहीं आए हैं.

कुछ तो टिक टॉक TikTok बनाने में व्यस्त रह रहे हैं उन्हें कोई भी दिहारी प्रवासी मजदूर दिखाएं नहीं दे रहे हैं. ऐसे में सोनू सूद इकलौते अभिनेता हैं जो कि सड़क पर से ऊपर उठे हैं.

उन्हें पता है मजबूरी उन्होंने इन सबों का मदद करने के लिए सामने आए आपको बता दें कि मुंबई से अब तक कई हजार पर वासियों को सोनू सूद घर पहुंचा चुके हैं। सोनू सूद ने बसों का इंतजाम किए.

और उन्होंने बसों से घर भेजा। सोनू सूद ने बहुतों के लिए खाना का भी इंतजाम करवाया जिससे कि कोई भी मजदूर बसों में खाली पेट सफर ना करें. भूखे पेट मुंबई से ना जा पाएं।

याराना सोनू सूद का वेबसाइट में क्या हुई बात

सोनू सूद से पूछा गया कि मजदूरों को घर भेजने में बस का कितना खर्चा आता है। जवाब में सोनू सूद ने कहा “इसमें 1.8 लाख से ₹200000 तक खर्च आता है” प्रवासी को कहां जाना है, इस पर भी यह निर्भर करता है.

यही नहीं क्योंकि सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को भी फॉलो करना है. ऐसे में एक बात पूरी तरह बस भरी नहीं जा सकती है और इस वजह से ज्यादा से ज्यादा बसें अरेंज Arrange करनी पड़ती है, अब सब कुछ सही हो रहा है दूसरे लोग भी इस काम में मदद के लिए सामने आ रहे हैं.

क्यों कर रहे हैं सोनू सूद प्रवासियों की मदद

सोनू सूद ने कहा कि “मैं प्रवासी मजदूरों की मदद इसलिए कर रहा हूं क्योंकि मैं भी कभी प्रवासी था,जो अपनी आंखों में ढेर सारे सपने लेकर मुंबई आया था”. याराना सोनू सूद का कहना हैं की मुझे प्रवासियों से पता चलता है की कितनी परेशानी से गुजर रहे हैं.

बिन खाना और पानी के हजारों किलोमीटर सड़कों पर पैदल चल रहे हैं तो मुझे अपनी शुरुआती दिनों की याद आ गई. ” मैंने पहली बार मुंबई बिना किसी आरक्षित टिकट के ट्रेन से आया था. मैं Train के दरवाजे पर खड़े होकर बाथरूम बगल में सोकर मुंबई पहुंचा था”. मुझे पता है कि संघर्ष क्या चीज होती है.

बता दे कि सोनू सूद और सोनू सूद की टीम ने प्रवासियों के लिए बहुत मदद किया है। सोनू सूद का ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट लिंक

याराना सोनू सूद का घर घर में चर्चा

सोनू सूद का कहना है कि वह एक-एक को घर पहुंचा कर ही काम को आराम देंगे. सोनू सूद के बारे में हर घर में चर्चा हो रही है, क्या नेता और अभिनेता लगभग के दिल में अपना घर कर चुके हैं सोनू सूद.

हर कोई उनका तारीफ करते नहीं थक रहा है, याराना सोनू सूद का इस काम को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी ट्विटर पर ट्वीट कर कहा कि” मुझे उस पर गर्व है”. वही भोजपुरी अभिनेता एवं बीजेपी नेता सुपरस्टार रवि किशन ने भी कहा” यही सब याद रहता है दुनिया में”.

सोनू सूद को अजय देवगन ने भी ट्विटर के जरिए सलाम किया है उन्होंने ट्विटर पर ट्वीट कर लिखा “प्रवासियों मजदूरों को उनके घर पहुंचाने का काम करने में आपको खूब ताकत मिले सोनू”.

सोनू सूद सोशल मीडिया पर एक्टिव (Active)

इन दिनों सोनू सूद सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव नजर आ रहे हैं सोशल मीडिया पर मदद मांगने वालों को मदद के साथ घर भेजने का आश्वासन दे रहे हैं।

सोनू सूद ने ट्विटर पर ट्वीट कर लिखा ऐसा

मेरे श्रमिक भाइयों और बहनों अगर आप मुंबई में हैं। अपने घर जाना चाहते हैं। तो कृपया इस पर कॉल करें-18001213711 और बताएं आप कितने लोग हैं,अभी कहां पर हैं और कहां जाना चाहते हैं. मैं मेरी टीम जो भी मदद कर पाएंगे हम जरूर करेंगे.

सोनू सूद के वह 10 ट्वीट जो कि 100 करोड़ की मदद पर परा भारी

  1. मामा से कहना….. आप भांजे के वजह से घर जा रहे हो।
  2. तैयारी रखना भाई, भविष्यवाणी कभी भी हो सकती है, करता हूं कुछ।
  3. मारेंगे तेरे दुश्मन। चल मां पापा से मिलवा कर लाता हूं।
  4. अम्मी अब्बू से कह दो” जल्दी मिलते हैं” Details भेजो।
  5. परेशानी गए तेल लेने। मुस्कुराइए… आप जल्द घर जाएंगे।
  6. बस्ती जाने के लिए बसते बांध लो भाई “Calling U”.
  7. फंसे हुए थे… अब नहीं. चल Detail भेज।
  8. परसों मां की गोद में सोएगा मेरे भाई। सामान बांध।
  9. पैदल क्यों जाओगे दोस्त?? नंबर भेजो.
  10. लो हो गई व्यवस्था… details भेजो। कल आप घर जा रहे हैं।

इस तरह से याराना सोनू सूद का जवाब किसी भी प्रवासी का हिम्मत बांधे रखने में सहायक साबित हो सकती है और मदद भी मिली।

वहीं दूसरी ओर कई अभिनेताओं ने पीएम केयर फंड में प्रवासियों तथा कोरोना से संक्रमित जुड़े हुए को राहत मिल सके P.M.Care Fund मैं पैसे दिए. उस पर किसी ने RTI दायर कर यह पूछ बैठा की कितने पैसे P.M. Care Fund में आया तो जबाब सुन आप हैरान हो जायेंगे, जबाब में बताया गया की यह RTI के दायरे में नहीं आता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here