पैर का नस अब नहीं चढ़ेंगे न ही तेज दर्द होगा

पैर की नस चढ़ जाने पर लगातार असहनीय दर्द हो जाता है तो जानिए क्या ऐसा करें की जिससे रात को सोने वक़्त, बैठने के वक़्त पैरों की नस चढ़ जाये तो उसका उपाय क्या है जानते है इसका निदान

नस पर से नस चढ़ जाने के कारण असहनीय दर्द होता है ऐसा प्रायः पाया गया है Medical Science की माने तो इसे शारीरिक कमजोरी के द्वारा माना गया है, नसों का चढ़ जाना muscle Contraction ( मांशपेशियों की सिकुड़न ) के कारण पैरों की नस आदि चढ़ जाया करती है।

मिल गया उपाय पैर की नस अब नहीं चढेंग़े जानिए कैसे

मांसपेशी की गांठ बन जाती है, तन्तुओं के ख़राब हो जाने पर ऐसा पाया जाता है। वैसे तो इस से उतना बड़ा खतरा होना नहीं कह सकते है, यह खुद व खुद ठीक भी हो जाया करता है नस पर नस चढ़ना मांसपेशी में खिंचाव, थकान आदि से भी प्रायः ऐसा हो जाया करता है।


इसके लक्षण  :-

पैर थोड़ा दबते अथवा सोते समय हाथ पैर सुन्न हो जाये, सीढ़ी चढ़ते समय नीचे घुटनों में खिंचाव आ जाना, आस पास गर्दन के करीब ताक़त की कमी का महसूस होना भी नस पर नस चढे होने का लक्षण हो सकता है। जो की बहुत ही असहनीय होता है।

नस पर नस चढ़ जाये तो ऐसा उपाय अपनाया करें

वैसे potassium की कमी के कारण का मुख्य लक्षण (कारण) माना गया है इसमें आप टमाटर का नियमित सेवन कर और संतरे का जूस, चुकन्दर, खजुर, दही, दही से बना पदार्थ, आलू, केला जैसे जिस किसी भी में पोटैशियम पाया जाता है, उसका नियमित सेवन कर लेने से आराम और लाभ मिलता है।

सरसों का तेल ठण्ड के मौसम में मालिश करना चाहिये इससे भी आराम होता है। सरसों के तेल की मालिश से मांसपेशिया मजबूत होती है, चुस्त दुरुस्त रहती है। तत्काल नस पर नस चढ़े स्थान पर बर्फ की सिंकाई करने से नस को और मांसपेशियों को आराम मिलता है।

दर्द अगर तेज हो रही हो तो नमक की पोटली बनाकर उस स्थल (जगह) पर नमक की पोटली को हल्का गर्म कर सिकाई की जाने पर भी दर्द में छुटकारा होने का रामवाण उपाय है, ये कारगर होती है।

इसेअपनाऐं तत्काल समय में, नस पर नस चढ़ जानें पर दूध को को गर्म कर उसमें हल्दी डालकर गुनगुना (सुसुम)हो जाने उसे पी लें। दर्द में तुरंत राहत दीखता हुआ नजर आएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here