महाराष्ट्र स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे समेत कई वरिष्ठ मंत्रियों को जोखिम हो सकता है. हालांकि टोपे ने कहा है कि मंत्रियों को क्वारनटीन में भेजने जैसी कोई जरूरत नहीं है. बैठक के वक्त मीटिंग हॉल में सोशल डिस्टेंसिंग मानकों का पूरा पालन किया गया था.

महाराष्ट्र स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे समेत मंत्रि को जोखिम
महाराष्ट्र स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे समेत मंत्रि को जोखिम

महाराष्ट्र स्वास्थ्य मंत्री: कोरोना

महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री धनंजय मुंडे का कोविड टेस्ट पॉजिटिव आने के बाद सवाल उठाया जा रहा है कि क्या महाराष्ट्र की कैबिनेट को क्वारनटीन में भेजे जाने की जरूरत है.

क्योंकि अभी दो दिन पहले ही मुंडे ने कैबिनेट की एक बैठक में हिस्सा लिया था, जिसमें उपमुख्यमंत्री अजीत पवार के साथ कई मंत्री मौजूद रहे थे. हालांकि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे खुद मीटिंग हॉल में मौजूद नहीं थे. ठाकरे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में हिस्सा ले रहे थे.

ऐसे में महाराष्ट्र स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे समेत कई वरिष्ठ मंत्रियों को जोखिम हो सकता है. हालांकि टोपे ने कहा है कि बाकी मंत्रियों को क्वारनटीन में भेजने जैसी कोई जरूरत नहीं है क्योंकि उपरोक्त बैठक के वक्त मीटिंग हॉल में सोशल डिस्टेंसिंग मानकों का पूरा पालन किया गया था.

उन्होंने यह भी कहा कि सभी मंत्री मास्क पहने हुए थे और ICMR दिशा-निर्देशों के मुताबिक किसी भी मंत्री को टेस्ट से गुजरने की आवश्यकता नहीं है. महाराष्ट्र स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा बैठक में उपस्थित रहे मंत्रियों में बीमारी जैसे कोई लक्षण नहीं दिखे हैं.

धनंजय मुंडे NCP कार्यालय में पार्टी के स्थापना दिवस कार्यक्रम में भी शामिल हुए थे. मुंडे के साथ उनके 6 स्टाफ सदस्यों का गुरुवार रात को टेस्ट पॉजिटिव आया. हालांकि मुंडे का स्वास्थ्य ठीक है लेकिन खांसी जैसे लक्षण हैं. उन्हें मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

मुंडे, महाराष्ट्र के तीसरे मंत्री हैं, जिनका टेस्ट पॉजिटिव आया. इससे पहले अशोक चव्हाण और जितेंद्र आह्वाड का भी टेस्ट पॉजिटिव आया था. ये दोनों मंत्री अब अस्पताल से लौटने के बाद आइसोलेशन में वक्त बिता रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here