मेंस हाइजीन डे हर साल 28 मई को मनाया जाता है, लड़कियों को पीरियड में अपने साफ सफाई का ध्यान इस दिन को ध्यान में रखकर रखना चाहिए। इसमें लड़कियां अगर साफ सफाई का ध्यान नहीं रखती है तो वेजाइनल इंफेक्शन का खतरा हो सकता है साथ ही साथ इनफर्टिलिटी से जुड़ी समस्या उत्पन्न हो सकती है।

विश्व मासिक धर्म स्वच्छता दिवस 28 मई को मनाया जाता है, या इसलिए मनाया जाता है क्योंकि महिला से जुड़ी तथा लड़कियों से जुड़ी पीरियड समस्याओं का प्रबंधन के बारे में सही जानकारी बताया जा सके।

पीरियड में रखें साफ सफाई का ध्यान
पीरियड-में-रखें-साफ-सफाई-का-ध्यान

ऐसा देखा जाता है कि लड़कियां अपने मासिक धर्म के बारे में खुल कर बताना पसन्द नहीं करना चाहती है। पीरियड्स काल के दौरान लड़की मानसिक तथा शरीर से कमजोर हो जाती है। इस दौरान काफी हार्मोन चेंज होने को भी देखा जा सकता है। इस वजह से लड़की को हमेशा साफ सफाई का ध्यान इस दौरान रखना चाहिए। अगर साफ नहीं रखा गया है तो वेजाइनल इंफेक्शन तथा इनफर्टिलिटी से जुड़ी समस्या आ सकती है।

गाजर के जूस से पीरियड में प्रॉब्लम को कुछ हद तक दूर किया जा सकता है।

पीरियड का प्रॉब्लम गाजर के जूस के सेवन से दूर होता है तथा यह पुरुषों में भी अनेकों तरह के रोगों के लिए फायदेमंद देखा गया है। जानते हैं पीरियड के दौरान साफ सफाई के लिए क्या-क्या करना चाहिए लड़कियों को.

पीरियड के दौरान समय-समय पर सेनेटरी नैपकिन बदले

लड़कियों को पीरियड के दौरान समय-समय पर सेनेटरी नैपकिन बदलना चाहिए अगर ऐसा नहीं किया गया तो योनि में संक्रमण होती है, ऐसा एक ही सेनेटरी पैड का इस्तेमाल करने से हो सकता है। आप अगर पीरियड में टैम्पान पहनती हैं तो हर हर 2 घंटे में सेनेटरी पैड को बदल देना चाहिए वैसे तो हर 5 घंटे में इसे बदल कर नया सेनेटरी पैड का इस्तेमाल करने से योनि में होने वाले संक्रमण से बचा जा सकता है। इसे दोनों तरह का बहाव यानी कि कम तथा ज्यादा बहाव दोनों में इस्तेमाल करना चाहिए।

योनि के साफ-सफाई का रखें ध्यान

महिलाओं के पीरियड के दौरान योनि का साफ सफाई का विशेष रूप से ध्यान रखने पर दुर्गंध से होने वाली समस्या से भी आप बस सकते हैं।

पीरियड में हो रहे बदलाव से अनेकों समस्या उत्पन्न हो शक्ति है जिस से बचाव करने का उपाय को अपनाएं

स्नान करने वक्त गर्म पानी का इस्तेमाल करें

शरीर का थकान तथा ताजगी का अनुभव गर्म पानी का इस्तेमाल कर स्नान करने से ऐसा अनुभव आपको होगा कि आप अपने आप को तरोताजा महसूस करेंगे, इसके इस्तेमाल से शरीर द्वारा आने वाली दुर्गंध भी दूर हो जाएगी।

नियमित बेडशीट को धोए

पीरियड में होने के दौरान नियमित रूप से आप बेडशीट को धोया करें जिससे इंफेक्शन जैसी समस्या से बचा जा सके। आप बेडशीट के साथ-साथ अपना अंडर वियर भी साथ समय के अंतराल बदला करें। जिसके कारण होने वाले संक्रमण तथा खुजली से भी आप बच सकते हैं।

पीरियड के दौरान डार्क चॉकलेट का सेवन करें

डार्क चॉकलेट का सेवन पीरियड में करने से इसमें राहत होती है, 65 परसेंट कोको वाली चॉकलेट का सेवन इन दिनों किया करें। इसके सेवन में मैग्नीशियम आदि भी मौजूद राह करते हैं, जिससे क्रेम्पस में काफी हद तक मदद हो जायेगा। 

इसे भी जरूर पढ़ें – Period में ज्यादा चाय पिने से नींद और घबराहट भी हो सकती है।

तुलसी की चाय पीने के ढेरों फायदे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here