कॉन्ग्रेस और राजद पर फिर गरजे मंत्री गिरिराज सिंह यह लोग क्या हिंदुस्तान को पाकिस्तान समझते हैं

पटना बिहार- भाजपा में केंद्र के मंत्री गिरिराज आज एक बार फिर कॉन्ग्रेस और राजद पर गरजे और गिरिराज सिंह ने कहा कि वारिस पठान द्वारा गए विवादित बयान को लेकर राजद दल और टुकड़े टुकड़े गैंग वाले लोगों से पूछा क्या यह हमारे हिंदुस्तान को पाकिस्तान बनाना चाहते है.

•ओवैसि का भाई :-15 मिनट के लिए पुलिस हटा लो 100Cr. हिंदुओं को बता देंगे।
• वारिस पठान :-15Cr 100Cr. पर भारी पड़ेंगे।
•ओवैसि के मंच से :-पाकिस्तान ज़िंदाबाद

कांग्रेस आरजेडी और टुकड़े टुकड़े गैंग से पूछना चाहते है “ क्या ये हिंदुस्तान को पाकिस्तान बनाना चाहते हैं”? pic.twitter.com/I3DIQUPAPR

— Shandilya Giriraj Singh (@girirajsinghbjp) February 21, 2020


भाजपा दल के फायर ब्रांड माने जाने वाले नेता गिरिराज सिंह ने इंडिया इत्तेहादुल मुस्लिमीन ए आई एम आई एम के प्रमुख ओवैसी के भाई वारिस पर निशाना साधा है.


गिरिराज सिंह ने आज अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा है की ओवैसी का भाई बोलता है 15 मिनट के लिए तुम अपनी पुलिस हटा लो तो 100 करोड़ हिंदुओं को बता देंगे. कोई वारिस पठान कहता है हम 15 करोड़ मुस्लिम अगर एक साथ निकल गए तब 100 करोड़ पर भी भारी पड़ेंगे.

ओवैसी के कार्यक्रम में एक लड़की के द्वारा पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए गए

#WATCH The full clip of the incident where a woman named Amulya at an anti-CAA-NRC rally in Bengaluru raised slogan of ‘Pakistan zindabad’ today. AIMIM Chief Asaddudin Owaisi present at rally stopped the woman from raising the slogan; He has condemned the incident. pic.twitter.com/wvzFIfbnAJ

— ANI (@ANI) February 20, 2020

कोई हद तो तब हो गई जब ओवैसी के कार्यक्रम में एक लड़की के द्वारा पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए गए, मैं इन राजद – कांग्रेस और टुकड़े टुकड़े गैंग से यह पूछना चाहता हूं यह हमारे हिंदुस्तान को पाकिस्तान बनाना चाहते हैं.


कॉन्ग्रेस और राजद पर फिर गरजे मंत्री गिरिराज सिंह यह लोग क्या हिंदुस्तान को पाकिस्तान समझते हैं



हम बता दें इससे पहले भी केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने गुरुवार को पूर्णिया मैं अपने विवादित बयान में कहा था कि सभी मुस्लिमों को 1947 में पाकिस्तान भेज देना चाहिए था. और साथ में यही बोला यह हमारे पूर्वजों की एक बहुत बड़ी गलती थी, जिसका खामियाजा आज भी हम भुगत रहे हैं.

भारत के विभाजन में नागरिकता का बड़ा सवाल था भारत और पाकिस्तान के विभाजन के समय बहुत बड़ी चूक की गई. 1947 की आजादी के समय हमारे पूर्वजों के द्वारा यह सबसे बड़ी गलती की गई थी अगर उस वक्त हींं  सभी मुस्लिमों को पाकिस्तान भेज दिया जाता और हिंदू भाइयों को भारत बुला लिया जाता तो आज यह नौबत नहीं आती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here