किसी की पत्नी थी गर्भवती, कुछ दिन पहले शादी हुई थी। दिल्‍ली हिंसा में मारे गये लोगो कि दास्‍तां 

लगभग 42 की मौत और 350 से ज्यादा घायल हो चुके हैं, 23 फरवरी 2020 की रात की हिंसा में दिल्ली में हुई थी। दंगाइयों ने भीड़ पर हमला कर तथा गोली और जला दिया। 

23 फरवरी 2020 5 दिन पहले की बात है दिल्ली का तनाव बढ़ता जा रहा था, रात को जाफर बाद metro station पर भड़क गई हिंसा वहां पर मौजूद लोग मैं भगदड़ मच गया तथा हिंसा कब दंगा में तब्दील हो गया पता नहीं चल पाया।

किसी की पत्नी थी गर्भवती, किसी की कुछ दिन पहले शादी हुई थी। दिल्‍ली हिंसा में मारे गये लोगो कि दास्‍तां



इसमें करीब 350 से ज्यादा लोग जख्मी एवं कुल 42 लोगों कि मारे जाने की खबर सामने आई है। माना जा रहा है कि ज्यादातर लोग गोली की शिकार होने एवं जला देने के कारण और चाकू तलवार से जिंदा काट दिए जाने की घटना सामने आई, ज्यादातर लोग गरीब तबके के ही थे, जिनकी जाने 23 फरवरी 2020 को गई।

जानते हैं जान से हाथ धोने वाले के कुछ नाम जो सामने आई है।        

शहीद अल्वी 24 वर्ष शहीद बुलंदशहर का रहने वाला ऑटो ड्राइवर था, पेट पर गोली लगने की वजह से गई थी जान कुछ महीने पहले ही विवाह हुआ था, इसका पत्नी साजिया गर्भ से है।
राहुल सोलंकी उम्र 26 वर्ष प्राइवेट कंपनी में नौकरी यह करता था, सिविल इंजीनियरिंग पढ़ाई के बाद नौकरी करने आया था राहुल। इसका बहन जो कि बड़ी है, उसकी अप्रैल में विवाह होने वाली थी।
अमान उम्र 17 वर्ष अमान का परिवार सलीमपुर में विरोध प्रदर्शन में था उसकी मौत लोकनायक अस्पताल लाते समय हो गई।

हाशिम उम्र 17 वर्ष आमिर मुस्तफाबाद का भाई था उसके भाई का भी शव प्राप्त हुआ दोनों भाई का सब गुरुवार को प्राप्त हुआ जबकि हाशिम की उम्र महज लगभग 17 साल का ही था।

ऐसे 30 तरह के अलग अलग दिल्‍ली के हिंसक घटना में इन सभी की मृत्यु हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here